Home सरकारी स्की‍म Government Scheme: दुधारू मवेशी योजना के तहत 70 हजार रुपये की मदद करती है सरकार, पढ़ें डिटेल
सरकारी स्की‍म

Government Scheme: दुधारू मवेशी योजना के तहत 70 हजार रुपये की मदद करती है सरकार, पढ़ें डिटेल

livestock animal news
प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली. यह बात बिल्कुल सच है कि ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले बहुत से लोगों को अपना जीवन यापन करने में मुश्किलों का सामना करना पड़ता है. बहुत से ग्रामीण पैसों की तंगी के कारण अपने बच्चों को पढ़ा लिखा भी नहीं पाते हैं. हालांकि ऐसे लोग पशुपालन करके अपनी आय बढ़ा सकते हैं. इसी वजह से सरकार ने पशु पालन से जुड़ी हुई योजना चलाई है. जिसका फायदा उठाकर किसान अपनी इनकम का एक और जरिया बना सकते हैं. यहां हम बात कर रहे हैं दुधारू मवेशी योजना के बारे में. इस योजना के जरिए ग्रामीण इलाकों के गरीब लोगों को पशु खरीदने के लिए आर्थिक सहायता दी जाती है.

अगर आप देश के किसी भी ग्रामीण क्षेत्र से आते हैं तो ये योजना आपके लिए काफी काम आ सकती है. आप दुधारू मवेशी योजना से जुड़ी किसी प्रकार की जानकारी हासिल करना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ें. आपको योजना के बारे में पूरी जानकारी दी जाएगी. इस योजना से जुड़कर किसानों को काफी फायदा होगा तो इसलिए जरूरी है कि वह इस योजना के बारे में आर्टिकल में दी गई हर एक जानकारी को बहुत ही तसल्ली के साथ पढ़ें.

50 फीसदी का मिलेगा अनुदान
यह बात तो हम सभी जानते हैं कि भारत दुनिया भर में दूध उत्पादन करने के मामले में नंबर वन पोजीशन पर है. सरकार इसी उत्पादकता को और ज्यादा बढ़ाना चाहती है. किसानों की आय को दोगुना करने और दूध के उत्पादन को और ज्यादा बढ़ाने के लिए सरकार ने इस योजना को संचालित किया है. जिसमें पशुपालन करने के लिए कोई भी ग्रामीण इलाके का व्यक्ति आर्थिक सहायता ले सकता है. पशुपालक को पशु खरीदने के लिए लागत का 50 फ़ीसदी अनुदान दिया जाता है. जबकि बच्ची 50 फीसदी पशु पालक को खुद ही इकट्ठा करना होगी.

क्या है योजना का फायदा
इस योजना के जरिए पशुपालक की आय को बढ़ाया जा सकता है. योजना के तहत पशुपालक को 70 हजार रुपये तक अनुदान दिया जाता है. योजना में पशुपालन के निर्माण पशुशाला के निर्माण के लिए 15 हजार रुपये की अनुदान राशि दी जाती है. लाभार्थियों के पशुओं का बीमा भी करवाया जाता है. ताकि पशु की मौत या रोगी होने पर पशुपालक भारी नुकसान न हो. योजना की वजह से भारत दुनिया भर में दूध निर्यात कर पाने में सक्षम होगा. योजना के जरिए पशुओं की देखभाल हो सकेगी. इसके जरिए भारत की जीडीपी और बेहतर सकेगी.

किसे मिलेगा इसका फायदा
आवेदन करने वाला व्यक्ति भारत का निवासी होना चाहिए. दुधारू मवेशी योजना का लाभ लेने के लिए आवेदनकर्ता को ग्रामीण इलाके का होना अनिवार्य है. दुधारू मवेशी योजना के लिए कुछ जरूरी दस्तावेज भी हैं. जिसमें आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, पैन कार्ड और बैंक अकाउंट नंबर देना होगा. आवेदनकर्ता पहले किसी बैंक के फाइनेंस कंपनी का डिफाल्टर है तो इस योजना का फायदा उसे नहीं मिलेगा. छोटे किसानों योजना का लाभ ले सकते हैं. आवेदनकर्ता की उम्र 18 साल से ज्यादा होना चाहिए.

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

green fodder livestock animal news
सरकारी स्की‍म

Government Scheme: इस चारा फसल की खेती के लिए सरकार देती लोन, मिलता है दोहरा फायदा

पशु जितना दूध उत्पादित करता है, अगर इस चारे खाने लगे तो...