Home डेयरी 15 महीने दूध के दाम नहीं बढ़ाने और मौजूदा दामों पर ये बोले Amul के MD
डेयरी

15 महीने दूध के दाम नहीं बढ़ाने और मौजूदा दामों पर ये बोले Amul के MD

amul milk snf
प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली. बीते 15 महीनों से दूध के दामों में किसी भी तरह की कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है. फिर वो चाहें भैंस का दूध हो या गाय का, ताजा हो या गोल्ड. बीते साल फरवरी में आखिरी बार दूध के दाम बढ़ाए गए थे, लेकिन उसके बाद से लगातार उन्हीं पुराने दाम पर पैकेट बंद दूध बिक रहा है. ये कहना है अमूल के एमडी जयेन मेहता का. एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में उन्होंने ये बात कही है. साथ ही मौजूदा वक्त में दूध के दाम बढ़ने को लेकर भी एक बड़ा खुलासा किया है.

गौरतलब रहे मार्च के बाद से ही ये कयास लगाए जा रहे थे कि गर्मियों की दस्तक के साथ ही एक बार फिर एक साल बाद दूध के दाम बढ़ सकते हैं. हालांकि पूरा अप्रैल और आधा मई बीत चुका है. अभी तक देश की कुछ बड़ी डेयरी कंपनी जैसे अमूल, मदर, वेरका, वीटा, पराग, नंदिनी, सांची आदि ने दूध के दाम नहीं बढ़ाए हैं. वहीं आइसक्रीम के बाजार को लेकर वो काफी उत्साहित नजर आए. उनका कहना है कि मौसम के मुताबिक आइसक्रीम का बाजार तेज रफ्तार से चल रहा है.

गर्मियों में दूध के दाम बढ़ने के चांस कम
जयेन मेहता ने न्यूज चैनल पर एक सवाल का जवाब देते हुए साफ किया कि साल 2023 की फरवरी में आखिरी बार दूध के दाम बढ़े थे. इसके बाद उसी साल अप्रैल से लेकर जून तक गर्मियों के बीच कोई दाम नहीं बढ़े. अब दाम बढ़ाए हुए 15 महीने बीत चुके हैं. इसकी वजह ये है कि बीते साल मानसून का मौसम ठीक-ठाक रहा था. कम से कम सामान्य बारिश अच्छी हुई थी. ऐसा होने के चलते पशुपालकों को दूध की बढ़ी लागत का सामना नहीं करना पड़ा था. और अच्छी बात ये है कि इस बार भी कुछ ऐसी ही उम्मीद नजर आ रही है. मौसम के जानकारों की मानें तो इस साल भी मानसून ठीक-ठाक रहेगा. अगर ऐसा होता है तो फिर दूध के दाम बढ़ाने की कोई जरूरत नहीं पड़ेगी. आपको बता दें कि बीते साल फरवरी में अमूल ने एक लीटर दूध पर तीन रुपये और आधा लीटर के पाउच पर एक रुपये की बढ़ोतरी की थी. वहीं भैंस के आधा लीटर दूध पर दो रुपये बढ़ाए गए थे.

आइसक्रीम से डेयरी कंपनियों की गर्मियों में हो जाती है आधी कमाई
जयेन मेहता ने इंटरव्यू के दौरान खुलासा करते हुए कहा है कि आइसक्रीम का ये सीजन बहुत अच्छार जा रहा है. हमारी बिक्री 30 से 40 फीसद तक बढ़ गई है. उम्मीअद है कि आगे भी ऐसा ही रहेगा. क्योंकि इस वक्ती देश के ज्यादातर राज्यों में तापमान 40 डिग्री से ऊपर है तो ना सिर्फ आइसक्रीम बल्कि लस्सी, छाछ और दही भी खूब बिक रहा है. डेयरी एक्सपर्ट की मानें तो छाछ-लस्सी, दही और आइसक्रीम बनाने वाली डेयरी कंपनियां अपनी सालभर की कमाई का आधा हिस्सा तो अप्रैल से जून में ही कमा लेती हैं. डेयरी के जानकारों का ये भी कहना है कि ज्यादातर नए आइटम गर्मियों में ही लांच होते हैं. गर्मी का सीजन शुरू होते ही कंपनियां बाजार में डेयरी से जुड़े नए प्रोडक्ट लांच करती हैं. इसमे से लगभग 20 प्रोडक्ट आइसक्रीम से जुड़े होते हैं.

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

डेयरी

Milk Production: इस नस्ल की भैंस पालें, दूध की क्वालिटी है लाजवाब, मिलेगा खूब फायदा

एक्सपर्ट कहते हैं कि पशुपालकों को चाहिए कि वो ऐसी नस्ल की...