Home पोल्ट्री Poultry: मुर्गी पालन शुरू करने के लिए इन 10 बैंकों से ले सकते हैं लोन
पोल्ट्री

Poultry: मुर्गी पालन शुरू करने के लिए इन 10 बैंकों से ले सकते हैं लोन

Backyard poultry farm: know which chicken is reared in this farm, livestockanimalnews
पोल्ट्री फॉर्म में मौजूद मुर्गे—मर्गियां. live stock animal news

नई दिल्ली. मुर्गी पालन को ऐसा व्यवसाय माना जाता है, जिसमें कम पूंजी, कम समय और कम मेहनत में शुरू किया जा सकता है. अगर मुर्गी पालन व्यवसाय सही ढंग से कर लिया जाए तो इससे काफी अच्छी इनकम हासिल की जा सकती है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक भारत में लगभग 50 लाख लोग मुर्गी पालन के रोजगार से जुड़े हैं. पोल्ट्री व्यवसाय शुरू करने के लिए कोई एक्सपर्टीज की भी जरूरत नहीं है लेकिन थोड़ी सी लगन और मेहनत और कुछ जरूरी ट्रेनिंग से इस व्यवसाय को किया जा सकता है और अच्छी खासी कमाई की जा सकती है.

एक रिपोर्ट के मुताबिक पोल्ट्री व्यवसाय लगभग 14 फ़ीसदी की दर से बढ़ रहा है. इसमें अपार संभावनाएं हैं. अगर आप भी मुर्गी पालन का बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो इसके लिए लोन भी ले सकते हैं और कई बैंक कम इंटरेस्ट रेट पर लोन देते हैं. इस आर्टिकल में आपको 10 बैंकों की बारे में जानकारी दी जा रही है जो जो मुर्गी व्यवसाय के लिए लोन देते हैं. इसके अलावा नाबार्ड भी मुर्गी पालन व्यवसाय के लिए सब्सिडी देती है.

ये रहे लोन देन वाले बैंकों के नाम
एक्सिस बैंक 10.49 और 22 फ़ीसदी प्रतिवर्ष की दर से लोन देता है. जबकि एचडीएफसी बैंक 10.5, 24% प्रतिवर्ष, आईडीएफसी फर्स्ट बैंक 10.99 परसेंट 23.99 परसेंट प्रतिवर्ष, कोटक महिंद्रा बैंक 10.99 परसेंट 36 परसेंट प्रतिवर्ष, बजाज फिनसर्व 11% 25% प्रतिवर्ष, एचडीबी 36% प्रतिवर्ष तक, एम कैपिटल 2% प्रति माह से शुरू, टाटा कैपिटल 10.99, 35 परसेंट प्रतिवर्ष, फ्लेक्सी 1% प्रति माह से शुरू, न्यू ग्रोथ फाइनेंस 19%, 24% प्रतिमाह की दर से लोन देता है.

सरकार भी करती है मदद
मुर्गी पालन के लिए पोल्ट्री शेड, रूम और अन्य सुविधाओं के निर्माण के लिए लोन लिया जा सकता है. अपनी आवश्यकता सुविधा के अनुसार ज्यादा से ज्यादा लोन हासिल कर सकते हैं. मुर्गी पालन व्यवसाय को बढ़ावा देने के लिए सरकार सब्सिडी प्रदान करती है. कोई मुर्गी पालन व्यवसाय शुरू करना चाहता है उसके बिजनेस की लागत एक लाख रुपये है तो सरकार सामान्य वर्ग के तहत 25 फीसदी यानी 25 हजार और एसटी एससी वर्ग के तहत 35% यानी 35 हजार रुपये सब्सिडी देगी. यह सब्सिडी नाबार्ड की ओर से दी जाती है.

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

livestookanimalnews-poultry-cii-egg-
पोल्ट्री

Poultry Farming: चेचक से कैसे मुर्गियों को बचाएं, क्या है इसका परमानेंट इलाज, यहां पढ़ें डिटेल

ईओस्नोफिल खून की कोशिका के आखिरी भाग में इंक्लूज़न बॉडी दिखाई देती...

poultry meat production in india
पोल्ट्री

Poultry Disease: मुर्गियों को चेचक से क्या होता है नुकसान, क्यों होती है ये बीमारी जानें यहां

जिसके कारण मुर्गी धीरे-धीरे कमज़ोर हो जाती है एवं मृत्यु हो जाती...

bird flu
पोल्ट्री

Poultry: बर्ड फ्लू वायरस पक्षियों में और इंसानों में कैसे फैलता है, पढ़ें यहां

एवियन इन्फ्ल्यूएंजा या बर्ड फ्लू चिकन, टर्की, गीस, मोर और बत्तख जैसे...