Home डेयरी Dairy: कम चारा खाकर भी ज्यादा दूध देती है इस नस्ल की गाय, जल्द अलग पैकिंग में आएगा इसका दूध
डेयरी

Dairy: कम चारा खाकर भी ज्यादा दूध देती है इस नस्ल की गाय, जल्द अलग पैकिंग में आएगा इसका दूध

Verka
द किसान डेयरी समिट में शामिल मेहमान.

नई दिल्ली. वेरका फिरोजपुर डेयरी (मिल्कफेड पंजाब) और इंडियन डेयरी एसोसिएशन (पंजाब चैप्टर) ने संयुक्त रूप से 30 जनवरी को जेनसेज इंस्टीट्यूट ऑफ डेंटल साइंसेज एंड रिसर्च, फिरोजपुर में “द किसान डेयरी समिट” का आयोजन किया. जहां गायों से ज्यादा दूध उत्पादन को लेकर चर्चा हुई. इसके साथ ही गाय की देखभाल इससे जुड़े विषय पर विशेषज्ञों ने राय रखी. बैठक में संयुक्त रजिस्ट्रार फिरोजपुर उमेश कुमार ने कहा कि किसानों को अधिक से अधिक साहीवाल नस्ल की गाय पालनी चाहिए. यह अन्य नस्ल की गायों की तुलना में कम चारा खाकर अधिक दूध देती है. इस नस्ल की गाय के दूध में भरपूर मात्रा में प्रोटीन होता है, जो रोगों से बचाता है.

किसानों को कर रहे हैं प्रोत्साहित
उन्होंने आगे कहा कि हम कुछ डेयरी किसानों के साथ मिलकर दूध उत्पादकों को अधिक से अधिक साहीवाल नस्ल की गायें पालने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं, ताकि साहीवाल गाय के दूध का अधिकतम उत्पादन किया जा सके. मुझे उम्मीद है कि साहीवाल गाय के दूध की अलग पैकेजिंग लॉन्च की जा सकेगी, ताकि इस गाय का दूध घर-घर पहुंचाया जा सके. इस सम्मेलन में इंडियन डेयरी एसोसिएशन के अध्यक्ष श्री आर.एस. सोढ़ी, मिल्कफेड पंजाब के चेयरमैन श्री नरिंदर सिंह शेरगिल, मिल्कफेड के प्रबंध निदेशक श्री कमल कुमार गर्ग आईएएस, डिप्टी कमिश्नर फिरोजपुर श्री राजेश धीमान आईएएस और राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड के अध्यक्ष श्री राजेश गुप्ता सम्मानित अतिथि के रूप में शामिल हुए.

10 करोड़ के कारोबार का है लक्ष्य
इन अतिथियों ने हुसैनीवाला बॉर्डर पर भी दौरा किया और वेरका फिरोजपुर डेयरी में अपने दौरे के दौरान पर्यावरण को शुद्ध करने के उद्देश्य से नए पौधे लगाए गए और अधिक से अधिक पौधे लगाने का संदेश दिया गया. बैठक में वेरका फिरोजपुर डेयरी के मिल्कशेड एरियन घल्लू, जीरा, जलालाबाद और मल्लवाल के डेयरी किसानों ने भाग लिया. इस सम्मेलन में मिल्कफेड पंजाब के प्रबंध निदेशक आईएएस कमल कुमार गर्ग ने कहा कि दूध की जांच के लिए वेरका मशीनों की सराहना की. कहा कि आने वाले वित्तीय वर्ष में मिल्कफेड का कुल 10 हजार करोड़ का कारोबार पूरा करने का लक्ष्य है. इस सम्मेलन में आये राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड के उत्तरी क्षेत्र के प्रमुख श्री राजेश गुप्ता, एन.डी.डी.बी. डेयरी उद्योग और दूध उत्पादकों के लिए एनडीडीबी द्वारा प्रदान की जाने वाली योजनाओं, सब्सिडी और अन्य परियोजनाओं के बारे में बहुमूल्य जानकारी दी.

ताकि सुधर सके देश की आर्थिक स्थिति
अध्यक्ष एस. नरिंदर सिंह शेरगिल, यहां पहुंचे सभी अतिथि, विशेषकर यहां के किसान इस सम्मेलन के आयोजन और इसे सफल बनाने के लिए वेरका फिरोजपुर डेयरी की पूरी टीम को आगमन पर हार्दिक धन्यवाद और बधाई. उन्होंने कहा कि भगवंत सिंह मान का सपना वेरका को अंतरराष्ट्रीय ब्रांड बनाना है. आइए हम सब मिलकर अपने इस सपने को पूरा करने के लिए काम करें. इंडियन डेयरी एसोसिएशन के अध्यक्ष विशिष्ट अतिथि अध्यक्ष आर.एस. सोढ़ी ने कहा कि डेयरी व्यवसाय देश की आर्थिक स्थिति में बहुत मूल्यवान योगदान देता है और अगले 40-45 वर्ष डेयरी व्यवसाय के लिए चरम अवधि है. उन्होंने डेयरी किसानों को अधिक पशु पालने, पशुओं की देखभाल करने, अच्छा चारा उपलब्ध कराने और अधिक अच्छी गुणवत्ता वाले दूध का उत्पादन करने के लिए प्रोत्साहित किया, ताकि निकट भविष्य में अधिक दूध भारत के बाहर निर्यात किया जा सके और देश की आर्थिक स्थिति को सुधारा जा सके. मजबूत किया गया.

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

livestock animal news
डेयरी

Dairy: भारत के सहयोग से केन्या में मजबूत होगा डेयरी सेक्टर, NDDB ने दिए ये खास टिप्स

केन्या में भारत की उच्चायुक्त नामग्या सी खम्पा केन्या में भारत भारतीय...

dairy
डेयरी

Dairy: हीट स्ट्रेस के असर से दूध का उत्पादन हुआ कम तो ये कंपनी करेगी भरपाई, जानें कैसे

IBISA के पोर्टफोलियो में नवीनतम जोड़ एक हीट इंडेक्स बीमा है. जिसे...

animal husbandry
डेयरी

Dairy: गर्मी में दुधारू पशु को कितना पिलाना चाहिए पानी, जानें यहां

एक लीटर दूध देने के लिए ढाई लीटर अतिरिक्त पानी की आवश्यकता...

livestock animal news
डेयरी

Jersey Cow Milk: कैसे बढ़ाया जा सकता है जर्सी गाय का दूध, एक्सपर्ट के बताए 3 तरीके यहां पढ़ें

अक्सर बहुत से किसान जर्सी गाय से हासिल होने वाले दूध का...