Home पोल्ट्री Poultry Farming: पोल्ट्री संचालक फार्म की सफाई का तरीका यहां पढ़ें, जानें कैसे करनी है क्लीनिंग
पोल्ट्री

Poultry Farming: पोल्ट्री संचालक फार्म की सफाई का तरीका यहां पढ़ें, जानें कैसे करनी है क्लीनिंग

Backyard poultry farm: know which chicken is reared in this farm, livestockanimalnews
पोल्ट्री फॉर्म में मौजूद मुर्गे—मर्गियां. live stock animal news

नई दिल्ली. पोल्ट्री कारोबार में वैसे तो कई तरह के पक्षियों को पालकर मुनाफा कमाया जा सकता है लेकिन ज्यादातर लोग पोल्ट्री कारोबार को मुर्गी पालन से जोड़कर देखते हैं. मुर्गी पालन करने भी खूब फायदा होता है. अगर कोई इस क्षेत्र में हाथ आजमाना चाहता है और 1500 मुर्गी का पालन करता है तो इससे 50 हजार से लेकर 1 लाख रुपये तक का मुनाफा कमा सकता है. हालांकि मुर्गी पालन में कई तरह की सावधानी बरतनी चाहिए. खास करके पोल्ट्री फार्म की सफाई आदि को लेकर ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत होती है.

अगर ऐसा नहीं करते हैं तो फिर बीमारी घर कर लेगी और पोल्ट्री कारोबार में फायदा होने की बजाय नुकसान उठाना पड़ सकता है. इसलिए जरूरी है कि पोल्ट्री फॉर्म की साफ-सफाई पर ज्यादा ध्यान दिया जाए. इस आर्टिकल में हम आपको यही बताने जा रहे हैं कि पोल्ट्री फॉर्म की सफाई किस तरह की जा सकती है.

डिसइंफेक्टेड करना है जरूरी
पोल्ट्री फॉर्म में जैसे ही मुर्गियों के झुंड को हटाया जाता है, तो बिछावन और वहां रखे डिवाइसों को कीटनाशक का छिड़काव करें. वहीं कीटनाशक को पर्याप्त समय तक रहने दें ताकि पोल्ट्री फार्म पूरी तरह से डिसइंफेक्टेड हो जाए. फ्यूमीगेशन उन पोल्ट्री फार्म में प्रभावी है जो कि एयरटाइ है और 21 डिग्री सेंटिग्रेट तापमान और 65 फीसदी हमुडिटी है तो फिर पोल्ट्री फार्म को बंद करके फ्यूमीगेशन करें. इसके लिए प्रत्येक 1000 घन फीट क्षेत्र के लिए 400 मिलीलीटर फार्मेल्डीहाइड और 200 ग्राम पोटेशियम परमैंगनेट का उपयोग करें और कुक्कुट गृह को 24 घंटे के लिए बंद रखें.

गंदगी और कूड़े को बाहर फेकें
सूखे पोल्ट्री फार्म में छिड़काव के लिए, चयनित कीटनाशक जैसे अमोनियम यौगिकों, आयोडोफोर्स, तरल अमोनिया या अन्य वाणिज्यिक रूप से उपलब्ध और बताए गए कीटनाशक का इस्तेमाल किया जाना चाहिए. पोल्ट्री फार्म से सभी हटाने योग्य सामान और उपकरण जैसे फूड सप्लायर्स, वाटर सप्लायर्स, बिजली फिटिंग और पर्दों को साफ करें. पोल्ट्री फार्म से पुराने कूड़े को हटाएं और इसे परिसर से दूर रखें. छत और दीवारों, तार जाल से मकड़ी के जालों, गंदगी और अव्यवस्थित मलबे को निकालें. जमीन को झाड़ू से अच्छे से साफ करें.

चूहे मारने की दवा भी रखें
जमीन को रात भर के लिए कास्टिक सोडा के पानी से 3-4 इंच गहराई तक भिगोएं और इसके बाद रसायन को पूर्ण रूप से निकालने के लिए साफ पानी से धोएं. कम से कम 5 फीट की दूरी तक कुक्कुट शेड के आसपास के परिवेश को साफ करें. दाब छिड़काव यंत्र का प्रयोग करते हुए पोल्ट्री फार्म में गर्म पानी से छिड़काव करें. पोल्ट्री फार्म की सभी दीवारों और जालियों को टाट की बोरियों से ढाकें. चूहे मारने की दवाएं ऐसे स्थान पर रखें जो चूजों की पहुंच से दूर हो.

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

poultry farm project
पोल्ट्री

Poultry Disease: चूजों को गिरफ्त में लेती है ये खतरनाक बीमारी, 100 परसेंट है मौत का जोखिम

पोस्टमार्टम करने पर पीले या ग्रे रंग की गांठ कई अंगों में...

livestookanimalnews-poultry-cii-egg-
पोल्ट्री

Poultry Farming: चेचक से कैसे मुर्गियों को बचाएं, क्या है इसका परमानेंट इलाज, यहां पढ़ें डिटेल

ईओस्नोफिल खून की कोशिका के आखिरी भाग में इंक्लूज़न बॉडी दिखाई देती...