Home डेयरी NDDB: भारत 2030 तक विश्व में दूध की हिस्सेदारी 30 फीसदी करेगा, दूध उत्पादन बढ़ाने के लिए बना ये प्लान
डेयरी

NDDB: भारत 2030 तक विश्व में दूध की हिस्सेदारी 30 फीसदी करेगा, दूध उत्पादन बढ़ाने के लिए बना ये प्लान

milk production in india
प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली. भारत में बड़ी मात्रा में दूध उत्पादन किया जाता है. विश्व भर में जितना दूध उत्पादन किया जाता है, उसमें भारत का कुल हिस्सा 24 फीसदी है. हालांकि अब राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड (एनडीडीबी) ने 2023 तक वैश्विक दूध उत्पादन में भारत की हिस्सेदारी बढ़ाने का लक्ष्य रखा है. इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए डेयरी विकास बोर्ड एनडीडीबी उत्पादकता को बढ़ाने पर काम कर रही है. इसके लिए मुख्य फोकस पशुओं के प्रजनन और पोषण और स्वास्थ्य पर रखा गया है.

एनडीडीबी के अध्यक्ष मी​नेश शाह ने कहा है कि वर्तमान में भारत में कुल वैश्विक उत्पादन 24 फीासदी यानी एक चौथाई हिस्सा हो रहा है. यह हमारे सकल घरेलू उत्पादन में 4-5 फ़ीसदी का योगदान देता है. हमारी योजना है कि साल 2030 तक विश्व भर में भारत की हिस्सेदारी 30 फीसदी तक हो जाए और दूध उत्पादन के एक तिहाई तक बढ़ाने की है.

पशुओं की उत्पादकता बढ़ाना जरूरी
इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए पशुओं की उत्पादकता बढ़ाना महत्वपूर्ण है. उन्होंने बताया कि विश्व में सबसे ज्यादा दूध उत्पादन भारत में है लेकिन पशु उत्पादकता विकसित देशों की तुलना में काम हो रही है. भारत सरकार और एनडीडीबी उत्पादकता बढ़ाने के मिशन पर काम कर रही है. अगले 7 सालों में दूध की खरीद बढ़ाने और अधिक किसानों को सरकारी आंदोलन के तहत लाने की योजना पर काम होगा. मीनेश शाह ने ब्रांड पूरबी का संचालन करने वाली वेस्ट असम मिल्क प्रोड्यूसर्स कोऑपरेटिव सोसाइटी की भी अध्यक्ष हैं. उन्होंने कहा कि समिति की क्षमता को एक नए प्लांट के साथ बढ़ाया जा रहा है.

खुरपका-मुंहपका जड़ से खत्म करने का लक्ष्य
बताते चलें कि पीएम मोदी ने गुजरात की सहकारी विपणन महासंघ के स्वर्ण जयंती समारोह के दौरान देश में दूध उत्पादन की बढ़ाने की बात पर जोर दिया था. उन्होंने कहा था कि देश में उत्पादन में 10 वर्षों में लगभग 60 फ़ीसदी का इजाफा हुआ है. एक दशक में प्रति व्यक्ति दूध की उपलब्धता भी 40 फ़ीसदी बढ़ी है. पीएम ने कहा था कि 10 करोड़ रुपये के डेयरी क्षेत्र में महिलाओं की भूमिका बढ़ी है. 70 फ़ीसदी तक महिलाओं से संचालित डेयरी का कारोबार, गेहूं, चावल और गन्ने की कुल कारोबार से भी अधिक है. साथ ही 2030 तक मवेशियों में होने वाले खुरपका—मुंहपका रोग को जड़ से खत्म करने का लक्ष्य है.

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

animal husbandry
डेयरी

Dairy: गर्मी में दुधारू पशु को कितना पिलाना चाहिए पानी, जानें यहां

एक लीटर दूध देने के लिए ढाई लीटर अतिरिक्त पानी की आवश्यकता...

livestock animal news
डेयरी

Jersey Cow Milk: कैसे बढ़ाया जा सकता है जर्सी गाय का दूध, एक्सपर्ट के बताए 3 तरीके यहां पढ़ें

अक्सर बहुत से किसान जर्सी गाय से हासिल होने वाले दूध का...

livestock animal news
डेयरी

Milk Production In Summer: इन तरीकों को अपनाकर पशुओं को गर्मी से बचाएं तो कम नहीं होगा दूध उत्पादन

एक्सपर्ट कहते हैं कि पशुपालकों का फायदा दूध उत्पादन पर ही टिका...

cow and buffalo cross breed
डेयरी

Milk Production: गर्मी में भी दूध उत्पादन नहीं होगा कम, डेयरी पशुओं की इस तरह करें केयर

पशुओं को प्रतिदिन पानी से धोना चाहिए या दिन में पशु पर...